पर्ली की प्रेमकथा - Pearly's Love Story - Hindi Moral Love Story

 Hindi Books, Hindi E Books, Hindi Novels, Hindi Love Stories, Hindi Crime stories, Hindi Books of Director Satishkumar, Hindi Romantic Stories, Hindi Romantic Novels, Small Books, Small stories in Hindi, Hindi Small stories, Hindi Prem Kahaniya, Hindi Story Books, Books, Best Hindi Books, Best Indian books, best hindi novels,  Hindi Kahaniya,

पर्ली की प्रेमकथा - Pearly's Love Story - Hindi Moral Love Story

किताब का विषय  (About the Book) :


                        पर्ली एक खूबसूरत मत्स्य कन्या थी। साथ ही वह सागर की रानी थी। वह अपनी सागर जीवन से ऊबकर एक जादूगर की मदद से मानव लड़की बनकर पृथ्वी पर आती है। जब वह पृथ्वी पर आती है और पृथ्वी की सुंदरता का स्वाद लेती है, तो वह एक सुंदर राजकुमार को देखती है। वह उससे प्यार करने लगती है। लेकिन उसका राजकुमार पहले से ही किसी और से प्यार करता था। इसलिए वह अपनी प्रेमी राजकुमार की प्रेयसी को मारने के लिए आगे बढ़ती है। "पर्ली की प्रेमकथा" इस सवाल का जवाब है कि क्या पर्ली को वह राजकुमार मिलता है जिसे वह प्यार करती थी? 
                            
इस कहानी को पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें - LINK 

 Hindi Books, Hindi E Books, Hindi Novels, Hindi Love Stories, Hindi Crime stories, Hindi Books of Director Satishkumar, Hindi Romantic Stories, Hindi Romantic Novels, Small Books, Small stories in Hindi, Hindi Small stories, Hindi Prem Kahaniya, Hindi Story Books, Books, Best Hindi Books, Best Indian books, best hindi novels,  Hindi Kahaniya,

 बुक राइट्स (Book Rights)

                     इस पुस्तक के सभी राइट्स डायरेक्टर सतीशकुमार और रोरिंग क्रिएशन्स प्राइवेट लिमिटेड इंडिया द्वारा आरक्षित हैं। डायरेक्टर सतीशकुमार की लिखित अनुमति के बिना इस पुस्तक के किसी भी भाग को कहीं भी कॉपी, अनुवाद या पुन: प्रकाशित नहीं किया जा सकता है। शार्ट फिल्म या वेब सीरीज में भी यूज नहीं किया जा सकता है। अगर इस तरह के कॉपीराइट का उल्लंघन हमें मिलता है, तो हम कानूनी तौर पर एक्शन्स लेते है और हुआ लॉस को कॉपी कैट्स से ही वसूल करते है। 

 © Director Satishkumar

                       All Rights of this book are fully reserved by Director Satishkumar and Roaring Creations Private Limited India. No part of this book can be copied, translated or re published anywhere without the written permission of Director Satishkumar. Can not be used in short films or web series. If such infringement of copyrights found to us, then we legally punish to copycats and recover our loss by them only.      
      
 © Director Satishkumar

लेखक परिचय (About Director Satishkumar)

                     डायरेक्टर सतीशकुमार एक युवा बहु भाषा लेखक (अंग्रेजी, हिंदी, मराठी और कन्नड़), मोटिवेशनल स्पीकर, बिजनेसमैन और इंडिपेंडेंट फिल्म-मेकर है। और साथ ही वो Roaring Creations Pvt Ltd इंडिया के सह संस्थापक और सीईओ हैं। अधिक अपडेट के लिए उन्हें सभी सोशल मीडिया साइट्स पर फॉलो करें। धन्यवाद....


                 Director Satishkumar is a young multi language writer (English, Hindi, Marathi and Kannada), Motivational Speaker, Entrepreneur and independent filmmaker from India. And also he is the Co-founder and CEO of Roaring Creations Pvt Ltd India. For more updates follow him on all social media sites. Thanks You....
        
Director Satishkumar

Special Information :

To read small moral stories, love stories, motivational stories, motivational quotes, life changing articles, Business tips and tricks etc written by Director Satishkumar please visit @ www.Roaringcreationsfilms.com,  To  watch our photography works please visit @ www.Roaringcreations.in 


All Rights of this book fully reserved by Director Satishkumar and Roaring Creations Private Limited India. 

Images Source : Pixabay.com 


Note : All the images used in this story are for illustration purpose only. 

Thanks You for Purchasing and Reading this Book with Love...


If you liked this Article, then please share with your friends and for more Entertainment please like our Facebook Page  (Roaring Creations) to get Notified about new posts. 
पर्ली की प्रेमकथा - Pearly's Love Story - Hindi Moral Love Story पर्ली की प्रेमकथा - Pearly's Love Story - Hindi Moral Love Story Reviewed by Director Satishkumar on November 29, 2019 Rating: 5
Powered by Blogger.