जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry - Love Shayari in Hindi - dard bhari shayari

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो तुमने मुझे हर जगह स्माइल क्यों दि...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार ही नहीं था, तो तुमने मुझे बिना पूछे अपना मोबाइल नंबर क्यों दिया...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो आपने मुझे आधी रात को मिस कॉल क्यों दिया...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो आपने मोबाइल में मुझसे घंटों तक बात क्यों की...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार ही नहीं था, तो तुमने दिन रात मेरे साथ चाटिंग क्यों की...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो आपने मुझे हजारों प्रेम संदेश क्यों भेजे...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार ही नहीं था, तो तुम चुप चुप के मेरे साथ पूरे गाँव क्यों घूमा...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो तुमने मुझे अपने गोद में सुलाके प्यार करके किस क्यों दी...? 

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब कोई प्यार नहीं था, तो तुमने मुझे महंगे गिफ्ट्स क्यों दिया...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब कोई प्यार नहीं था, तो तुमने मुझे सेल्फी के बहाने अपने पास क्यों खींचा...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो तुमने मेरे साथ पागल की तरह बर्ताव क्यों किया...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो आपने मेरे दर्द और लाभ के लिए रिस्क क्यों उठाया...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो तुमने मेरे नाम का टैटू अपने हाथ पर क्यों बनवाया...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब कोई प्यार नहीं था, तो आपने शादी से पहले हनीमून के लिए मुझसे लड़ाई क्यों की...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब कोई प्यार नहीं था, तो आपने अपनी घरवालों की आंखे छुपाकर मेरे साथ लुका-छिपी क्यों खेला...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो तुमने मुझे प्यार करके धोखा क्यों दिया...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो आपने अपने पति के घर जाते समय आंसू क्यों बहाया...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो शादी के बाद भी तुम मुझे मेसेज क्यों कर रही हो...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो तुमने अभी भी मुझे अपनी यादों में क्यों रखी हो...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

जब प्यार नहीं था, तो तुम मुझे याद करके क्यों रो रही हो...?

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

माफ़ कर दो सहेली, अब मैं तुम्हारा नहीं हूँ, तुम्हारा हो भी नहीं सकता... 

जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry

अगर आपको इस आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे like और share कीजिए। हर रोज इसी तरह के मोटिवेशनल आर्टिकल्स, प्रेम कहानी और कविताओं को फ्री में पड़ने के लिए फेसबुक, Twitter, इंस्टाग्राम और YouTube पर मुझे फॉलो कीजिए। (Search as Director Satishkumar and Roaring Creations) 


If you liked this Article, then please share with your friends and for more Entertainment please like our Facebook Page  (Roaring Creations) to get Notified about new posts. 
जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry - Love Shayari in Hindi - dard bhari shayari जब प्यार नहीं था - Hindi Love Poetry - Love Shayari in Hindi - dard bhari shayari Reviewed by Director Satishkumar on July 27, 2019 Rating: 5
Powered by Blogger.